Breaking News

नहर पाटकर रास्ता बनाने वालों के खिलाफ ग्रामीण आगे आये——

निगोहा प्रधान अभयकांत दीक्षित व अर्चना त्रिवेदी चैरिटेबल मेमोरियल ट्रस्ट ने सीएम पोर्टल पर दर्ज कराई शिकायत

किसान यूनियन अतिक्रमण के विरोध में दी प्रदर्शन की चेतावनी


लखनऊ। संवाददाता

निगोहा में नहर पाटकर निजी प्लाटिंग के लिये रास्ता बंनाने वाले मामले में ग्राम प्रधान समेत ग्रामीणों ने आगे आकर विरोध शुरू कर दिया है।वही विभागीय अधिकारी जल्द ध्वस्तीकरण की कार्यवाही का आश्वसन दिया है।किसान यूनियन के एक गुट ने नहर पाटने वालो के खिलाफ प्रदर्शन की चेतावनी दे दी है।

निगोहा उदयपुर के सामने लखनऊ-रायबरेली हाइवे के किनारे एक निजी प्लाटिंग कंपनी के लोगो ने रायबरेली रजबहा पर प्लाटिंग पर जाने के लिये स्लेप डालकर चौड़ा रास्ता बना डाला इसको लेकर इलाके के ग्रामीणों ने विरोध शुरू कर दिया।इसी को लेकर निगोहा ग्राम प्रधान अभयकांत दीक्षित व अर्चना त्रिवेदी चैरिटेबल मेमोरियल ट्रस्ट ने सीएम पोर्टल पर नहर पाटने वालो के खिलाफ शिकायत दर्ज कराकर नहर पर हुए अतिक्रमण को हटवाए जाने की मांग की है।ग्रामीणों का कहना है कि नहर पर स्लेप डालने से नहर का पानी किसान खेतो तक नही पहुच पायेगा। सहायक अभियंता धनंजय तिवारी ने बताया कि नहर पर स्लेप डालने के मामले की जांच लगभग पूरी हो गई ध्वस्तीकरण का आदेश होते ही स्लेप को तोड़कर नहर को अतिक्रमण मुक्त करा दिया जाएगा।

पहले भी निजी प्लाटिंग कम्पनी पर लग चुके आरोप——-
ग्रामीणों ने बताया इसी निजी प्लाटिंग कंपनी के लोगो ने मोहनलालगज इलाके में भी नाले को पाटकर कब्जा कर चुके है।साथ ही कुछ जगहों पर सरकारी जमीनों को भी प्लाटिंग साइड में मिलाकर लोगो के हाथ बेच दिया जा चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!