Breaking News

विश्व बाघ संरक्षण दिवस पर आयोजित हुई टीशर्ट पेंटिंग प्रतियोगिता

विश्व बाघ संरक्षण दिवस पर आयोजित हुई टीशर्ट पेंटिंग प्रतियोगिता

बच्चों ने दिया रंगों के माध्यम से वन्यजीवों के बचाव का संदेश

यूथ हॉस्टल्स एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया की उत्तर प्रदेश राज्य शाखा की तुलसीपुर इकाई एवं सी.टी.सी.एस. लखनऊ के संयुक्त तत्वावधान में बच्चों की चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन

बलरामपुर/लखनऊ, बाघ संरक्षण दिवस के उपलक्ष्य में मध्य प्रदेश टाईगर फाउंडेशन सोसायटी एवं यूथ हॉस्टल्स एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया की मध्य प्रदेश राज्य शाखा द्वारा संयुक्त रूप से टीशर्ट्स पेंटिंग प्रतियोगिता का आयोजन राष्ट्रीय स्तर पर किया गया था।

उपरोक्त प्रतियोगिता में प्राप्त हुई बीस टीशर्ट्स को यूथ हॉस्टल्स एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया की उत्तर प्रदेश राज्य शाखा की तुलसीपुर इकाई एवं सी.टी.सी.एस. लखनऊ के संयुक्त तत्वावधान में बच्चों द्वारा विभिन्न मनमोहक चित्र बनाकर फैब्रिक कलर्स से पेंट किया गया।

प्रतियोगिता को दो वर्गों में विभाजित करते हुए उसके परिणाम आज 30/7/21 को जजेज़ के पैनल द्वारा घोषित किए गए जिसमें जूनियर वर्ग में प्रथम स्थान केरल के शिवा अनूप, द्वितीय स्थान लखनऊ की जन्नत अशरफ़, तृतीय स्थान लखनऊ की सान्वी श्रीवास्तव एवं सांत्वना पुरस्कार लखनऊ की सोनाली श्रीवास्तव को दिया गया। वहीं सीनियर ग्रुप में प्रथम स्थान बलरामपुर की कृति शुक्ला, द्वितीय स्थान लखनऊ की श्रेया बिंदल तृतीय स्थान बलरामपुर की आयुषी अग्रवाल एवं सांत्वना पुरस्कार बाराबंकी की नीति यादव को दिया गया। सभी विजेताओं को विजेता सर्टिफिकेट व मोमेंटोज़ दिए गए। अन्य सभी प्रतिभागिता करने वाले प्रतिभागियों में ओजस्वी यादव, खनक पाल, कशिश पाल, यशु वर्मा, मन्नत अशरफ़, नैना श्रीवास्तव, हिना, नेहा वर्मा, आँचल वर्मा, शिवांशी, निधि श्रीवास्तव एवं शगुफ़्ता इक़बाल शेख़ रहीं जिन सभी को सहभागिता के सर्टिफिकेट के साथ ही मोमेंटोज़ भी वितरित किए गए।

प्रतियोगिता में लखनऊ, बाराबन्की, बलरामपुर एवं केरल के बच्चों ने प्रतिभागिता की, जिनमें सभी यूथ हॉस्टल्स एवं सी.टी.सी.एस. की सदस्यता लिए हुए हैं। यह सभी टीशर्ट्स मध्यप्रदेश में ही विभिन्न आदिवासी बच्चों में उपहार स्वरूप वितरित की जाएंगी।

कार्यक्रम में यूथ हॉस्टल्स तुलसीपुर इकाई के चेयरमैन आलोक अग्रवाल, सी.टी.सी.एस. के फाउंडर मनोज कुमार सहित संदीप उपाध्याय, सुनीता , निधि श्रीवास्तव एवं अर्चना पाल का विशेष योगदान व सहयोग रह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!